खुद जाने सिम आधार से लिंक है या नहीं

नई दिल्ली: भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने सभी मोबाइल कंपनियों को अपने ग्राहकों को ऐसी सुविधाएं मुहैया कराने के लिए कहा है ताकि वे जांच सकें कि उनका मोबाइल सिम आधार संख्या या नंबर यूआईडीएआई से जुड़ा हुआ है या नहीं।

आधार दुरुपयोग की शिकायतें मिलती हैं
यूआईडीएआई को यह पता चला है कि कुछ खुदरा विक्रेताओं, ऑपरेटरों और दूरसंचार कंपनियों के एजेंट कथित तौर पर बेस प्रमाणीकरण सुविधा का दुरुपयोग कर रहे हैं। यूआईडीएआई ने दूरसंचार कंपनियों को चेतावनी दी है कि उन्हें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनके खुदरा विक्रेताओं या एजेंट किसी भी तरह की धोखाधड़ी गतिविधियों का पालन न करें। यूआईडीएआई ने 15 मार्च तक, मोबाइल कंपनियों को अपने ग्राहकों को एक नई सुविधा प्रदान करने के लिए कहा गया है।

31 मार्च तक मोबाइल सिम आधार पर लिंक कराना होगा
केंद्र सरकार ने मोबाइल सिम को 31 मार्च, 2018 तक आधार पर जोड़ना आवश्यक बना दिया है। सर्वोच्च न्यायालय ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि इस नियम के लिए कोई राहत नहीं होगी। इसके माध्यम से, सरकार मोबाइल सिम का उपयोग करने वाले व्यक्ति की सही पहचान सुनिश्चित करना चाहती है।

641 total views, 0 views today

Author: AajTak7

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *